प्रेस वार्ताः किसी राजनीतिक पार्टी की विरासत नहीं योग

दलगत राजनीति से उठकर करें योग:स्वामी जी महाराज देहरादून (उत्तराखण्ड)। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने कहा कि योग किसी राजनीतिक पार्टी की विरासत नहीं है, इसलिए योग पर सियासत नहीं होनी चाहिए। उन्होंने सभी दलों से आह्वान किया कि दलगत राजनीतिक से ऊपर उठकर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में प्रतिभाग करें। यह कार्यक्रम सरकार का नहीं है, बल्कि सामाजिक संस्थाओं का है। इसमें सरकार पूर्ण सहयोग कर रही है। बताया कि पतंजलि योग समिति के माध्यम से देश के पाँच हजार स्थानों पर योग दिवस मनाया जाएगा। बीआर आंबेडकर स्टेडियम…

दलगत राजनीति से उठकर करें योग:स्वामी जी महाराज

देहरादून (उत्तराखण्ड)। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने कहा कि योग किसी राजनीतिक पार्टी की विरासत नहीं है, इसलिए योग पर सियासत नहीं होनी चाहिए। उन्होंने सभी दलों से आह्वान किया कि दलगत राजनीतिक से ऊपर उठकर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में प्रतिभाग करें। यह कार्यक्रम सरकार का नहीं है, बल्कि सामाजिक संस्थाओं का है। इसमें सरकार पूर्ण सहयोग कर रही है। बताया कि पतंजलि योग समिति के माध्यम से देश के पाँच हजार स्थानों पर योग दिवस मनाया जाएगा। बीआर आंबेडकर स्टेडियम में हुई प्रेसवार्ता में श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने कहा कि पहली बार उत्तराखण्ड को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस की मेजबानी का मौका मिला है। दिल्ली, चण्डीगढ़, लखनऊ के बाद चैथा अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को दून में मनाया जा रहा है, जिसमें पीएम मोदी भी शामिल होंगे। कहा कि पीएम के ही प्रयासों से योग को विश्व स्तर पर पहचान मिली है। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने बताया कि वे 21 जून को दून के कार्यक्रम में शािमल नहीं हो पाएंगे, उन्हंे कोटा के कार्यक्रम में हिस्सा लेना है, जिसमें ढाई से तीन लाख लोग हिस्सा लेंगे। बताया कि कार्यक्रम सफल बनाने के लिए 100 स्थान चिह्नित किए गये हैं, जहां योग सिखाया जाएगा, ताकि योग दिवस पर 50 हजार से अधिक लोग एक साथ योग कर सकें। -साभारः अमर उजाला

Related Posts

Advertisement

Latest News