राष्ट्र की सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाना देश से गद्दारी : परम पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज

राष्ट्र की सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाना देश से गद्दारी : परम पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज

राष्ट्र की सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाना देश से गद्दारी: परम पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज नारनौल (हरियाणा)। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने नागरिक संशोधन कानून और एनआरसी का समर्थन किया है। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने इसे देशहित में बताया है। गांव बीगोपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि देश में एक भी अवैध नागरिक न रहे। यह सारे देश का और देश के सारे राजनीतिक दलों का सामूहिक उत्तरदायित्व है और यदि पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में कोई हिन्दू प्रताड़ित होता है तो वह आखिर…

राष्ट्र की सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाना देश से गद्दारी: परम पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज

नारनौल (हरियाणा)। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने नागरिक संशोधन कानून और एनआरसी का समर्थन किया है। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने इसे देशहित में बताया है। गांव बीगोपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि देश में एक भी अवैध नागरिक न रहे। यह सारे देश का और देश के सारे राजनीतिक दलों का सामूहिक उत्तरदायित्व है और यदि पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में कोई हिन्दू प्रताड़ित होता है तो वह आखिर जाएगा कहां।
                उसको भारत की नागरिकता मिले। इसके लिए ही यह नागरिकता बिल है। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने कहा कि इसके लिए बार-बार प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और गृहमंत्री श्री अमित शाह जी कह चुके हैं कि नागरिक बिल किसी की नागरिकता छीनने के लिए नहीं, यह तो किसी को नागरिकता देने के लिए है। अब इसमें कुछ लोगों ने मजहबी तौर पर भ्रम फैलाया है। अब इसका निवारण होना चाहिए। पूज्य स्वामी जी महाराज ने कहा कि यह देश हम सबका देश है और इस देश को हमारे पूर्वजांे ने बनाया है। देश में आग लगाने का अधिकार किसी को नहीं है। किसी भी तरह से आगजनी करना व राष्ट्रीय सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाना यह एक तरह से देश के साथ गद्दारी है। यह नहीं होना चाहिए। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज अपने घनिष्ठ राव हरीशचंद्र आर्य जी की श्रद्धांजलि सभा में भाग लेने बीगोपुर आए हुए थे। बता दें कि नागरिक संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हो रहे हैं।
                 अभी हाल में ही उत्तर प्रदेश और दिल्ली में इसको लेकर हिंसक प्रदर्शन हुए थे। प्रदर्शनकारियों ने सरकारी सम्पत्तियों को नुकसान पहुंचाया था। दिल्ली के कई इलाकों में भी हिंसक प्रदर्शन हुए थे। इस दौरान कई पुलिसकर्मियों को चोटें भी आयी थी। प्रदर्शन की वजह से लोगों को रोड जाम से भी परेशानी हो रही है। इसके अलावा दिल्ली में मेट्रों के कई स्टेशन भी बंद होते रहे हैं। इससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

Advertisement

Latest News