स्वस्थ शरीर ही बना सकता है अपराजिता

स्वस्थ शरीर ही बना सकता है अपराजिता

कण्वघाटी (कोटद्वार)। कोटद्वार स्थित एक बारातघर में अमर उजाला के अपराजिता 100 मिलियन स्माइल महाभियान के तहत महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए योग का अभ्यास करने के लिए योग का अभ्यास कराया। उन्होंने समाज में महिलाओं के योगदान को महत्वपूर्ण बताते हुए उन्हें स्वस्थ रहने के लिए बीमारियों से बचाव के उपाय बताए। कार्यक्रम का शुभारंभ महिला बहन आशा जी ने सभी महिलाओं को योग प्राणायाम, सूर्य नमस्कार, चक्की आसन, स्थित त्रिकोण आसन, पादहस्थ आसन, कमर दर्द के लिए मकरासन, भुजंगासन, शलभासन, शुगर के लिए…

कण्वघाटी (कोटद्वार)। कोटद्वार स्थित एक बारातघर में अमर उजाला के अपराजिता 100 मिलियन स्माइल महाभियान के तहत महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए योग का अभ्यास करने के लिए योग का अभ्यास कराया। उन्होंने समाज में महिलाओं के योगदान को महत्वपूर्ण बताते हुए उन्हें स्वस्थ रहने के लिए बीमारियों से बचाव के उपाय बताए।

कार्यक्रम का शुभारंभ महिला बहन आशा जी ने सभी महिलाओं को योग प्राणायाम, सूर्य नमस्कार, चक्की आसन, स्थित त्रिकोण आसन, पादहस्थ आसन, कमर दर्द के लिए मकरासन, भुजंगासन, शलभासन, शुगर के लिए मंडूक आसन, शशकासन, बच्चों के लिए हाइट बढ़ाने के लिए ताड़ासन, पश्चिमोत्तानासन, गले एवं थाइराइड के लिए उज्जायी प्राणायाम एवं सिंहासन आदि आसनों का अभ्यास करवाया। योग प्रशिक्षक ने बताया कि प्रतिदिन शरीर में चुस्ती फुर्ती के लिए प्राणायाम भस्त्रिका, कपालभाति, उज्जायी, अनुलोम विलोम, भ्रामरी आदि यौगिक जाॅगिंग का अभ्यास करना चाहिए। योगाचार्या बहन शोभा ने बताया कि योग साधकों को कुछ औषधीय पौधे घर में अवश्य लगाने चाहिए। उन्होंने महिलाओं को पानी पीने के तरीके के बारे में बताया। कहा कि रोज सुबह खाली पेट गर्म पानी पीना चाहिए। बताया कि ऋतुभुक (ऋतु के अनुसार), मितभुक (कम मात्रा में) और हितभुक (हितकारी भोजन) लेने वाला हमेशा सुखी और स्वस्थ रहता है। कार्यक्रम में अनीता कंडारी, लक्ष्मी नेगी, मुन्नी थपलियाल, आरती खंतवाल, गोदांबरी नेगी, कुसुम ध्यानी, हेमा देवरानी, आशा थपलियाल मौजूद रहे।

Related Posts

Advertisement

Latest News