उद्घाटन: माननीय मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल खट्टर जी, श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने मोरनी हिल्स में किया हर्बल फाॅरेस्ट का लोकार्पण……

उद्घाटन: माननीय मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल खट्टर जी, श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने मोरनी हिल्स में किया हर्बल फाॅरेस्ट का लोकार्पण……

प्रदेश में गठित होगा हर्बल काॅपरेशन, मोरनी क्षेत्र में बनेगा ऑर्गेनिक क्लस्टर मोरनी (हरियाणा)। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने प्रदेश में आयुर्वेद और हर्बल दवाओं को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा हर्बल काॅर्पोरेशन बनाने की घोषणा की, उन्होंने कहा कि मोरनी क्षेत्र को ऑर्गेनिक क्लस्टर बनाने के अलावा यहां जड़ी-बूटियों के लिए विश्व स्तरीय नर्सरी भी स्थापित की जाएगी। वे यहां वल्र्ड हर्बल फाॅरेस्ट प्रोजेक्ट के उद्घाटन अवसर पर जनसभा में बोल रहे थे। इस दौरान योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज, पूज्य आचार्य बालकृष्ण जी महाराज, वन एवं वन्य प्राणी मंत्री…

प्रदेश में गठित होगा हर्बल काॅपरेशन, मोरनी क्षेत्र में बनेगा ऑर्गेनिक क्लस्टर

मोरनी (हरियाणा)। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने प्रदेश में आयुर्वेद और हर्बल दवाओं को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा हर्बल काॅर्पोरेशन बनाने की घोषणा की, उन्होंने कहा कि मोरनी क्षेत्र को ऑर्गेनिक क्लस्टर बनाने के अलावा यहां जड़ी-बूटियों के लिए विश्व स्तरीय नर्सरी भी स्थापित की जाएगी। वे यहां वल्र्ड हर्बल फाॅरेस्ट प्रोजेक्ट के उद्घाटन अवसर पर जनसभा में बोल रहे थे। इस दौरान योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज, पूज्य आचार्य बालकृष्ण जी महाराज, वन एवं वन्य प्राणी मंत्री राव नरबीर सिंह, राज्य मंत्री कर्णदेव काम्बोज, सांसद रतन लाल कटारिया, विधायक लतिका शर्मा मौजूद रहे। खट्टर जी ने कहा कि सिक्किम जैसे राज्य की तर्ज पर मोरनी हिल्स में ऑर्गेनिक खेती की अपार संभावनाएं हैं, जिसके तहत ट्राईसिटी के लोगों की ऑर्गेनिक फल-फूल व अन्य खाद्यान्नों की मांग को पूरा किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने पतंजलि योगपीठ के अनुसंधानकत्र्ताओं को मोरनी में रहने के लिए स्थान उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि अनुसंधानकर्ताओं ने मोरनी क्षेत्र में 53 नई जड़ी-बूटियों की खोज की है, अब तक वन विभाग के रिकार्ड में जड़ी-बूटियों की 1062 प्रजातियों ही दर्ज थी। मुख्यमंत्री ने परियोजना पर कार्य करने वाले 20 वैज्ञानिकों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। खट्टर ने यहां हरड़ वाटिका का लोकार्पण भी किया। पतंजलि योगपीठ द्वारा मोरनी क्षेत्र में 125 वाटिकाओं को विकसित करने का लक्ष्य रखा गया, जिसमें से अब तक 65 वाटिकाएं विकसित की जा चुकी हैं | मुख्यमंत्री ने पूज्य आचार्य श्री द्वारा लिखित पुस्तकों फ्लोरा ऑफ मोरनी हिल्स, वेजीटेटिव सर्वे ऑफ मोरनी हिल्स तथा मोरनी क्षेत्र के महत्वपूर्ण औषधीय पादप का विमोचन किया।

Related Posts

Advertisement

Latest News