अंतर्राष्ट्रीय योग महोत्सव: योग के माध्यम से जीवन को निरोगी बनाएं: देवेंद्र फडणवीस

श्रद्धेय स्वामी जी महाराज की उपस्थिति में करीब डेढ़ लाख नागरिकों ने लिया कार्यक्रम का लाभ। नांदेड़ (महाराष्ट्र)। प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में योग को अत्यंत महत्व होना चाहिए। इसलिए योग के माध्यम से अपना जीवन निरोगी व स्वास्थ्यदायी बनाने का प्रयत्न करनेका आह्वान मुख्यमंत्री देवंद्र फडणवीस ने नांदेड़ मंे 21 जून को किया। नांदेड़ में राज्य शासन व विविध समाजिक, धार्मिक व शैक्षणिक संस्थाओं के संयुक्त रूप में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। इस समय योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने योग का प्रत्याक्षिक किया।      …

श्रद्धेय स्वामी जी महाराज की उपस्थिति में करीब डेढ़ लाख नागरिकों ने लिया कार्यक्रम का लाभ।

नांदेड़ (महाराष्ट्र)। प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में योग को अत्यंत महत्व होना चाहिए। इसलिए योग के माध्यम से अपना जीवन निरोगी व स्वास्थ्यदायी बनाने का प्रयत्न करनेका आह्वान मुख्यमंत्री देवंद्र फडणवीस ने नांदेड़ मंे 21 जून को किया। नांदेड़ में राज्य शासन व विविध समाजिक, धार्मिक व शैक्षणिक संस्थाओं के संयुक्त रूप में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। इस समय योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने योग का प्रत्याक्षिक किया।

              इस बीच सांसद प्रताप पाटील चिखलीकर, विधायक डाॅ. तुषार राठोड, जि.प.सदस्य प्रणिताताई चिखलीकर-देवरे, प्रवीण पा.चिखलीकर, औरंगाबाद विभाग के आयुक्त सुनील केंद्रेकर, विशेष पुलिस महानिरीक्षक प्रकाश मुत्याल, जिलाधिकारी अरुण डोंगरे, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अशोक काकड़े, पुलिस अधीक्षक संजय जाधव, मनपा आयुक्त लहुराज माली, अपरजिलाधिकारी खुशालसिंह परदेशी आदि के साथ योग साधक उपस्थित थे। मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा व यह प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र में सबसे कम कालावधि में मंजूर हुआ। आज विश्व के 150 से अधिक देशमें सुद्दढ़ स्वास्थ्य के लिए योगासन किए जाते हैं ऐसा भी कहा। विश्व योग दिन के कार्यक्रम आने का अनुरोध श्रद्धेय स्वामी जी महाराज को किया था, उन्होंने वह तुरन्त मान्य किया। उन्हें हमने बताया यह कार्यक्रम मराठवाडा के नांदेड़ में लिया जा रहा है। तब उन्हें बहुत आनन्द हुआ था। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने इस राज्यस्तरीय शिविर में उपस्थित रहने को कई बार मुख्यमंत्री ने कहा।

             नांदेड़ के पावनभूमि में प्रत्यक्ष योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज अपनी योगविद्या का प्रशिक्षण देने के लिए आए हैं। इस अवसर का लाभ लेकर नांदेड़ जिला वासियों ने निरोगी व आरोग्यदायी जीवन के लिए नियमित योगासने करने का संकल्प करने का आह्वान भी मुख्यमंत्री फडणवीस ने किया। प्रत्येक नागरिक ने अपने दैनंदिन जीवन में नियमित रूप से योगासन कर अपना जीवन आरोग्यदायी व सुखकर बनाने का आह्वान श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने भी किया। -साभारः भास्कर प्लस’

Related Posts

Advertisement

Latest News

आयुर्वेद में वर्णित अजीर्ण का स्वरूप, कारण व भेद आयुर्वेद में वर्णित अजीर्ण का स्वरूप, कारण व भेद
स शनैर्हितमादद्यादहितं च शनैस्त्यजेत्।     हितकर पदार्थों को सात्म्य करने के लिए धीरे-धीरे उनका सेवन आरम्भ करना चाहिए तथा अहितकर पदार्थों...
अयोध्या में भगवान श्री रामजी की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव
ऐतिहासिक अवसर : भारतीय संन्यासी की मोम की प्रतिकृति बनेगी मैडम तुसाद की शोभा
पतंजलि योगपीठ में 75वें गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण कार्यक्रम
भारत में पहली बार पतंजलि रिसर्च फाउंडेशन में कोविड के नये वैरिएंट आमीक्रोन JN-1 के स्पाइक प्रोटीन पर होगा अनुसंधान
आयुर्वेद अमृत
लिवर रोगों में गिलोय की उपयोगिता को अब यू.के. ने भी माना