योग, आयुर्वेद एवं स्वदेशी के विरोधी आसुरी

योग, आयुर्वेद एवं स्वदेशी के विरोधी आसुरी

शक्तियों एवं षड्यंत्रकारियों को ‘जवाब दें’ परम पूज्य आचार्य बालकृष्ण जी महाराज करोड़ों लोगों की आशा और विश्वास हैं और उन्होंने करोड़ों लोगों को जीवन दिया है पूज्य आचार्य श्री का स्वास्थ्य किसी व्यक्ति द्वारा खिलाने से ‘फूड प्वाइज़्ान’ हुई, जो अब पूर्णतः ठीक है। कुछ आसुरी, वामपंथी शक्तियाँ, षड्यंत्र पूर्वक योग, आयुर्वेद, स्वदेशी व भारतीय संस्कृति को बदनाम करने में लगी हुई हैं। लोग पूज्य आचार्य श्री के लिए सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक कमेंट करते हैं यह भी हमनें देख लिया लेकिन हम भी उस मिट्टी के बने हैं…

शक्तियों एवं षड्यंत्रकारियों को ‘जवाब दें’

परम पूज्य आचार्य बालकृष्ण जी महाराज करोड़ों लोगों की आशा और विश्वास हैं और उन्होंने करोड़ों लोगों को जीवन दिया है पूज्य आचार्य श्री का स्वास्थ्य किसी व्यक्ति द्वारा खिलाने से ‘फूड प्वाइज़्ान’ हुई, जो अब पूर्णतः ठीक है। कुछ आसुरी, वामपंथी शक्तियाँ, षड्यंत्र पूर्वक योग, आयुर्वेद, स्वदेशी व भारतीय संस्कृति को बदनाम करने में लगी हुई हैं। लोग पूज्य आचार्य श्री के लिए सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक कमेंट करते हैं यह भी हमनें देख लिया लेकिन हम भी उस मिट्टी के बने हैं कि चाहे जग बैरी हो जाए लेकिन हम सत्य पथ से डिग नहीं सकते, अपने कर्तव्य से पलायन नहीं कर सकते।

कुछ लोगों का काम ही यही है कि यह पतंजलि योगपीठ, योग, आयुर्वेद, स्वदेशी और ऋषियों का कार्य न हो बस इसी में लगे रहते हैं तो हम आप लोगों से यही कहेंगे, चाहे लोग लाख षड्यंत्र करे, आपको हिम्मत नहीं हारनी है और तमाम संघर्षों के बीच रहते हुए आपको आगे बढ़ना है आप भी हौसला रखना और हम भी हौसला रख कर आगे बढ़ते रहेंगे। लोगों ने कितनी भी बुरी बातें कही हो लेकिन करोड़ों लोगों का आशीर्वाद पहले भी हमारे साथ था और हमेशा रहेगा।

हम सब को भगवान का प्रतिनिधि बनना है, गुरु सत्ता, योग, आयुर्वेद, वैदिक संस्कृति के प्रतिनिधि हैं, हम प्रतिरूप हैं, हम उसके उत्तराधिकारी हैं और हमें इसी मार्ग पर चलना है। हमने योग को कभी नहीं छोड़ा, पतंजलि योगपीठ में एक दिन भी योग नहीं छूटा है। योग करते हैं, यज्ञ करते हैं, गौसेवा करते हैं, इनको हमने कभी नहीं छोड़ा है। लोगो को चिंता है कि पूज्य आचार्य श्री को क्या हुआ, तो हम कहना चाहते हैं कि पूज्य आचार्य श्री पूर्ण स्वस्थ हैं लेकिन कुछ दुष्ट लोगों की सोच है कि पूज्य आचार्य श्री का इलाज क्यों करा रहे हैं ऐसे भी लोग हैं, किसी ने कहा की पूज्य आचार्य श्री का हार्ट फेल हो गया, किसी ने कहा की उनको ब्रेन हेमरेज हो गया, किसी ने कहा उनके किडनी, फेफड़े सब फेल हो गए और पता नहीं लोगों ने कितनी घटिया बातें की वो लोग इस देश के हैं, ये कोई विधर्मी लोग नहीं हैं ये अपने आपको हिन्दू कहने बाले लोग हैं तो हम इनके सभी प्रश्नों के उत्तर देने के बाध्य नहीं हैं लेकिन एक बात कहना चाहता हूँ की लाख बुरा सोचने बाले लाख बुरा सोचें लेकिन पूज्य आचार्य श्री पूर्ण स्वाथ्य हैं, कुछ असुर कौआ प्रवृति के लोग हैं जो अपनी कांव-कांव करते रहते हैं लेकिन उससे हमारा कुछ नहीं बिगड़ने बाला है, कोई दुष्ट व्यक्ति खाने की चीज में कुछ नशीला, जहरीला मिलाकर खिला दे और सब लोग कहें पूज्य आचार्य श्री बीमार हो गए ये सब गलत है अब पूज्य आचार्य श्री स्वस्थ्य हैं। कोई लाख आलोचना करे, कोई लाख योग, आयुर्वेद, वेदों, ऋषियों और पतंजलि की आलोचना करे कोई धर्म, सत्य, न्याय की क्यों न आलोचना करे लेकिन प्रत्यक्ष को कोई नहीं नकार सकता। हमारे लाखों करोड़ों आलोचक हैं वह भी यह मानते हैं कि श्रद्धेय स्वामी रामदेव जी महाराज के कारण करोड़ों लोगों का भला हुआ है और करोड़ों सात्विक आत्माओं के आशीषों से हम आगे बढ़ेंगे जिससे देवत्व, पुण्य, सत्य की प्रतिष्ठा होगी और यह योगधर्म, राष्ट्रधर्म आगे बढ़ता रहेगा। सोशल मीडिया पर ऐसे बहुत से असुरगैंगों के लोग सक्रिय हैं। जिनको इसी बात से दिक्कत है कि पूज्य आचार्य जी स्वस्थ क्यों हैं, सकुशल क्यों हैं, उन्होंने मंसूबे पाले थे पूज्य आचार्य जी को कुछ हो जाए। पूज्य आचार्य श्री स्वस्थ हो गए हैं और आश्रम में वापस आ गए हैं ऐसे असुरगैंग के लोगों को उन्हीं की भाषा में मुंह तोड़ उत्तर दें।

‘‘कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया में असुरगैंगों ने षड्यंत्र पूर्वक खबर फैलायी कि पूज्य स्वामी जी महाराज घुटने के आॅपरेशन के लिए जर्मनी गये है। जबकि पूज्य स्वामी जी महाराज का कभी कोई    आॅपरेशन नहीं हुआ। जिस दिन खब़्ार फैलाई उस दिन पूज्य स्वामी जी महाराज ने आस्था पर स्पअम योगाभ्यास करवाया था। बाद में सभी प्रमुख मीडिया संस्थानों ने स्वयं जब इस न्यूज की जांच की तो ।ठच् न्यूज के वायरल सच/दैनिक भास्कर/आजतक के फैक्ट चैक के अन्तर्गत जब जांच की तो इसको पूरी तरह फर्जी/फेक/झूठी न्यूज पाया।’’

याद रखें-राष्ट्र की हानि दुष्टों की दुष्टता से कम सज्जन व्यक्तियों की उदासीनता से अधिक होती है। अतः हमें सोशल मीडिया या कहीं पर कोई अनावश्यक भ्रम/षड्यंत्र/भ्रामक खबर फैलाता है तो उसका पुरजोर उत्तर दें। प्रमाणिक जानकारी के लिए निरन्तर पूज्य स्वामी जी महाराज व पूज्य आचार्य श्री का फेस बुक/ट्वीटर/ यूट्यूब एकाउण्ट से जुड़े। किसी भी प्रकार के बहकाव व षड्यंत्र के शिकार न बनें। पूज्य आचार्य श्री पूर्ण स्वस्थ है तथा आश्रम में अपनी निरन्तर राष्ट्रसेवा में लगे हुए है।

Advertisement

Latest News