दवामुक्त जीवन के लिए योग अपनाने की दी सलाह

योग शिविर में विद्यार्थियों को यौगिक क्रियाओं का अभ्यास कराया। मीर्जापुर (असम)। जमुनहिया स्थित सावित्री बालिका इंटर काॅलेज परिसर पर पतंजलि योग समिति, युवा भारत के जिला इकाई की ओर से चल रहे दो दिवसीय निःशुल्क योग शिविर का समापन किया गया। समापन के अवसर पर योगाभ्यास के दौरान पतंजलि युवा भारत के जिला प्रभारी योगाचार्य ज्वाला सिंह जी ने छात्राओं को लम्बाई बढ़ाने, याद्दाश्त तेज करने, कमर दर्द, शुगर, ब्लड प्रेशर, गठिया, सर्वाइकल, अनिद्रा, माइग्रेन, जोड़ों के दर्द आदि समस्याओं के निवारण के लिए योग के विभिन्न क्रियाओं का…

योग शिविर में विद्यार्थियों को यौगिक क्रियाओं का अभ्यास कराया।

मीर्जापुर (असम)। जमुनहिया स्थित सावित्री बालिका इंटर काॅलेज परिसर पर पतंजलि योग समिति, युवा भारत के जिला इकाई की ओर से चल रहे दो दिवसीय निःशुल्क योग शिविर का समापन किया गया। समापन के अवसर पर योगाभ्यास के दौरान पतंजलि युवा भारत के जिला प्रभारी योगाचार्य ज्वाला सिंह जी ने छात्राओं को लम्बाई बढ़ाने, याद्दाश्त तेज करने, कमर दर्द, शुगर, ब्लड प्रेशर, गठिया, सर्वाइकल, अनिद्रा, माइग्रेन, जोड़ों के दर्द आदि समस्याओं के निवारण के लिए योग के विभिन्न क्रियाओं का अभ्यास कराया। साथ-ही योग से होने वाले लाभ के बारे में विस्तार से जानकारी दी। योगाचार्य ने कहा कि जीवन में अगर निरोग रहना है तो योग से जुड़ना पड़ेगा तभी व्यक्ति दवाओं से मुक्त खुशियों से युक्त जीवन जी सकता है। विद्यालय की प्रधानाचार्या पूजा जी ने कहा कि कि योग प्राणायाम का हर व्यक्ति के जीवन में होना जरूरी है। विद्यालय के प्रबंधक महादेव प्रसाद ने कहा कि योग व प्राणायाम से शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ मानसिक लाभ होता है। -साभार: हिन्दुस्तान

जीवन में अगर निरोगी रहना है तो योग से जुड़ना पड़ेगा।

Advertisement

Latest News