सर्दी सताए तो दौड़ लगाए: पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज

सर्दी सताए तो दौड़ लगाए: पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज

संतुलित आहार : ठंड के मौसम में दूध में हल्दी तथा शिलाजीत डालकर पीनी चाहिए। हरिद्वार। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने कड़ाके की सर्दी से बचने के गुर बताए। पतंजलि योगपीठ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि अगर सर्दी सताए तो दौड़ लगाना सबसे अच्छा उपाय है। जो लोग सक्षम हैं, उन्हें सुबह सबसे पहले दौड़ लगानी चाहिए। थोड़ी देर दौड़ने से ही शरीर में ऊर्जा का भरपूर संचार हो जाता है। इससे सर्दी को दूर भगाने में मदद मिलती है। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने…

संतुलित आहार : ठंड के मौसम में दूध में हल्दी तथा शिलाजीत डालकर पीनी चाहिए।

हरिद्वार। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज ने कड़ाके की सर्दी से बचने के गुर बताए। पतंजलि योगपीठ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि अगर सर्दी सताए तो दौड़ लगाना सबसे अच्छा उपाय है। जो लोग सक्षम हैं, उन्हें सुबह सबसे पहले दौड़ लगानी चाहिए। थोड़ी देर दौड़ने से ही शरीर में ऊर्जा का भरपूर संचार हो जाता है। इससे सर्दी को दूर भगाने में मदद मिलती है। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज ने सर्दी से बचाने में योग और प्राणायाम के योगदान को अहम बताया। इस मौसम में हाई ब्लडप्रेशर के मरीजों को सतर्कता बरतने को कहा। उनके लिए ब्रह्मी, अनुलोम-विलोम, प्राणायाम, भ्रस्त्रिका जैसा आसन और प्राणायाम को जरूरी बताया। कहा कि इससे शरीर में खून का दौरा बढ़ता है और व्यक्ति स्वस्थ रहता है। उन्होंने कहा कि ठंड के मौसम मंे दूध में हल्दी तथा शिलाजीत डालकर पीनी चाहिए। साथ ही दिल के मरीजों को अर्जुन की छाल आदि का सेवन करना चाहिए।

Advertisement

Latest News