No Title

No Title

कच्छ में बहनों द्वारा 51 कुंडीय हवन-यज्ञ हुआ आयोजित   पतंजलि परिवार के सहयोग से सात दिवसीय योग एवं ध्यान शिविर का समापन   वापी (गुजरात)। महिला पतंजलि योग समिति वलसाड द्वारा 51 हवन कुंड के साथ बृहद यज्ञ, विविध औषधीय हवन सामग्री के साथ आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार गुरुधाम से परम पूज्या श्रद्धामई पूज्या दीदी जी के आॅनलाइन वर्चुअल आशीर्वाद प्राप्त हुए। पूज्या दीदी जी ने यज्ञ की विधि समझाते हुए योग और यज्ञ का जीवन में महत्व बताया साथ ही स्वामी यज्ञदेव…

कच्छ में बहनों द्वारा 51 कुंडीय हवन-यज्ञ हुआ आयोजित

 

पतंजलि परिवार के सहयोग से सात दिवसीय योग एवं ध्यान शिविर का समापन

 

वापी (गुजरात) महिला पतंजलि योग समिति वलसाड द्वारा 51 हवन कुंड के साथ बृहद यज्ञ, विविध औषधीय हवन सामग्री के साथ आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार गुरुधाम से परम पूज्या श्रद्धामई पूज्या दीदी जी के आॅनलाइन वर्चुअल आशीर्वाद प्राप्त हुए। पूज्या दीदी जी ने यज्ञ की विधि समझाते हुए योग और यज्ञ का जीवन में महत्व बताया साथ ही स्वामी यज्ञदेव जी द्वारा यज्ञ में आहूत की जाने वाली औषधी द्रव्य के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई।

            सभी भाई बहनों ने यज्ञ विधि करने के उपरान्त योग करने व कराने तथा स्वदेशी अपनाने जैसे संकल्पों को धारण किया। वलसाड से बहन पुष्पा, मेघा, प्रीति, दक्षा, शीला, मीना, सुशीला, जागृति, जानकी, रजनी, तथा कांति भाई, रणजीत, सनी, डेनिल जी का विशेष योगदान रहा।

            कार्यक्रम के अंत में शरद पूर्णिमा के पावन अवसर पर माता जी की आराधना करते हुए गरबा भी किए गये। तदुपरान्त अल्पाहार तथा गिलोय का काढ़ा पिलाया गया। सभी भाई-बहनों को यज्ञ विधि का पेंपलेट वितरित किया गया ताकि इस विधि को सीखते हुए सभी जन योग के साथ यज्ञ को अपनाते हुए इस विधि को अपने दैनिक जीवन में अपनाएं और पूर्ण रूप से स्वस्थ बने। -साभार: जन संसार

Related Posts

Advertisement

Latest News