पतंजलि कार्ड (स्वदेशी समृद्धि कार्ड) योजना दिशा-निर्देश

पतंजलि कार्ड (स्वदेशी समृद्धि कार्ड) योजना दिशा-निर्देश   ईस्ट इण्डिया कम्पनी से लेकर वर्तमान यूनिलीवर, कोकाकोला, पेप्सी आदि कम्पनियों ने 1 हजार लाख करोड़ रुपये की लूट की है, भविष्य में इस लूट से बचाने के लिए आत्मनिर्भर भारत का पतंजलि का पुरुषार्थ परमार्थ के लिये है। इस अभियान को स्थाई व संस्थागत रूप देने के लिये ये स्वदेशी समृद्धि कार्ड योजना जिसको अब ‘पतंजलि कार्ड’ कर दिया है। वर्तमान में इसमें 20 लाख परिवार इस अभियान से जुडे़ हैं, परम पूज्य स्वामी जी महाराज के निर्देशानुसार हमें अभी आने…

पतंजलि कार्ड (स्वदेशी समृद्धि कार्ड) योजना दिशा-निर्देश

 

ईस्ट इण्डिया कम्पनी से लेकर वर्तमान यूनिलीवर, कोकाकोला, पेप्सी आदि कम्पनियों ने 1 हजार लाख करोड़ रुपये की लूट की है, भविष्य में इस लूट से बचाने के लिए आत्मनिर्भर भारत का पतंजलि का पुरुषार्थ परमार्थ के लिये है। इस अभियान को स्थाई व संस्थागत रूप देने के लिये ये स्वदेशी समृद्धि कार्ड योजना जिसको अब ‘पतंजलि कार्ड’ कर दिया है। वर्तमान में इसमें 20 लाख परिवार इस अभियान से जुडे़ हैं, परम पूज्य स्वामी जी महाराज के निर्देशानुसार हमें अभी आने वाले लगभग 3 माह (तीन माह) में हमें 1 करोड़ सदस्य बनाने का लक्ष्य है।
1. एक परिवार से 1 सदस्य को ही इस कार्ड योजना से जोड़ना है। कार्ड की सदस्यता सहयोग राशि शुल्क 100/- रहेगा तथा कार्ड को पहला टाॅप-अप/ रिचार्ज 500/- से करवाना अनिवार्य होगा।
2. कार्यकत्ताओं केा अपने रेफरल कोड के साथ नये सदस्य बनाने पर प्रोत्साहन व पुरस्कार के रूप में 100 रुपये प्रति कार्ड सेवा सम्मान दिया जायेगा।
3. विशेष- कोई भी पुराने समृद्धि कार्ड धारक सदस्य भी यदि इस योजना से जुड़कर प्रोत्साहन राशि प्राप्त करना चाहते हैं तो वह भी संगठन कार्यकत्र्ता की तरह अपना रेफरल कोड प्रयोग करके नये लोगों को सदस्य बना सकते हैं जो भी स्वदेशी के कार्य को सर्मथन दे रहे हैं वह भी हमारे कार्यकत्र्ताओं की श्रेणी में ही गिने जायेंगे।

कार्ड के लाभ-

1. पतंजलि कार्ड धारक को पतंजलि उत्पादों पर- दिव्य फार्मेसी व पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं पर 10 प्रतिशत छूट (कैशबैक) तथा अन्य उत्पादों पर 5 प्रतिशत छूट मिलेगी।
2. पतंजलि परिधान पर 50 प्रतिशत की छूट केवल आर्डर-मी (व्तकमत डम) के माध्यम से दी जायेगी।
3. कार्ड धारक को समय-समय पर पतंजलि संस्था द्वारा उत्पादों पर स्पेशल डिस्काउन्ट भी दिया जायेगा।
4. कार्ड धारक को आकस्मिक मृत्यु पर 5 लाख तक तथा स्थायी अपंगता दुर्धटना होने पर 2.5 की राशि का बीमा भी प्राप्त होगा।
बीमा लाभ के लिए न्यूनतम अर्हता- पतंजलि स्वदेशी समृद्धि कार्ड सदस्य (कार्ड-धारक) को 6 माह (180 दिन) में कम से कम 6000/-रुपये मूल्य के उत्पाद कार्ड के माध्यम से खरीद करने पर बीमा लाभ के योग्य होगा।

कार्य-योजना-

प्रत्येक जिले में न्यूनतम 25 भाई-बहनों की एक टीम बनानी है, पूरे देश में 10 हजार भाई-बहन जो घर-धर जाकर आॅनलाईन लगातार कार्य करेंगे, प्रतिदिन हमें कम से कम 1 लाख कार्ड पूरे देश में बनाने हैं। जिसकी रिपोर्टिंग जिला/राज्य अनुसार डेलीबेसिज पर की जायेगी, हमेें टाईम एण्ड टारगेट बेस्ड कार्य करना हैं।
कार्यकत्र्ता प्रोत्साहन पुरस्कार- 500 या उससे अधिक कार्ड बनाने वाले संगठन कार्यकत्र्ताओं को गुरुपूर्णिमा 24 जुलाई, 2021 तक 50 लाख कार्ड पूर्ण होने पर विशेष चयन प्रक्रिया द्वारा ‘स्वदेशी विजेता पुरस्कार’ दिया जायेगा। जिसमें चयनित कार्यकत्र्ताओं को पहले 5 आल्टो कार माॅडल-800 टग्प् च्सने/20 स्कूटी/20 मोटर साईकिल/5 स्वर्ण आभूषण सेट द्वारा पुरस्कृत किया जायेगा।
कार्ड का पंजीकरण करवाने हेतु कार्यकत्र्ताओं को निर्देश
1. इस योजना में नये सदस्यों को जोड़ने के लिए संगठन कार्यकत्र्ता को सर्वप्रथम अपना स्वयं का स्वदेशी समृद्धि/पतंजलि कार्ड बनवाना अनिवार्य है। जिसे वह अपने नजदीकी पतंजलि स्टोर पर व्तकमत डम ऐप पर आॅनलाईन बनवा सकता है।
2. संगठन कार्यकत्र्ता नये सदस्य बनाने के लिए व्तकमत डम ऐप पर जाकर नये कार्ड धारक का रजिस्टेªशन करेंगे।
3. संगठन कार्यकत्र्ता अपने रेफरल कोड के साथ नये स्वदेशी समृद्धि कार्ड के पंजीकरण के लिए व्कमत उम ऐप पर सभी आवश्यकता विवरणों के साथ फाॅर्म भरेगें और आई.डी. प्रूफ (आधार कार्ड अथवा वोटर आई.डी. अथवा ड्राईविंग लाइसेंस) के रूप में अपलोड करेंगे और कार्ड शुल्क के लिए नये कार्ड धारक से 100 रुपये का भुगतान तथा 500 रुपये का प्रथम टाॅप-अप अनिवार्य रूप से करवायेंगे।
4. संगठन कार्यकत्र्ता नये कार्ड सदस्य बनाते हुए अपना रेफरल कोड अप्लीकेशन फार्म में आवश्यक भरेंगे, रेफरल कोड के आधार पर प्रोत्साहन राशि उनके कार्ड-एकाउंट में जमा होगी।

रेफरल कोड प्राप्त करने की प्रक्रिया-

संगठन कार्यकत्र्ताओं के लिए-

1. सर्वप्रथम संगठन कार्यकत्र्ता अपने स्वयं के कार्ड को एक्टिवेट करेंगे और गूगल प्ले स्टोर के माध्यम से व्कमत उम का एंड्राॅइड मोबाइल (मोबाइल नम्बर ही रेफरल कोड होगा) एप्लिकेशन डाउनलोड करेंगे जिसके बाद वह व्कमत उम मोबाइल एप्लिकेशन पर अपने रेफरल कोड देख सकते है।
2. रेफरल कोड के लिए अपने ग्राहक प्क्/ पंजीकृत मोबाइल नम्बर के माध्यम से लाॅगिन करेंगे।
3. संगठन कार्यकत्र्ता संभावित नये कार्ड धारक से सम्पर्क करेंगे और व्कमत उम ऐप के माध्यम से आॅनलाइन फाॅर्म भरकर अपने रेफरल कोड के और आवेदन में आवश्यक आई.डी./पता प्रमाण-पत्र अपलोड करेंगे।
4. आॅनलाइन फाॅर्म भरने के बाद, नये कार्ड धारक को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर एक रेफरल कोड के साथ एक आवेदन संख्या प्राप्त होगी साथ ही संगठन कार्यकर्ता को उसके रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर भी यही ैडै प्राप्त होगा।

कार्ड धारक के लिए निर्देश-

1. रजिस्टेªशन और 100 रुपये पेमेन्ट के बाद नये सदस्य को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर ैडै के माध्यम से एक एप्लीकेशन नम्बर प्राप्त होगा।
2. 500 रुपये का रिचार्ज का ैडै एवं पिन नम्बर नये कार्ड धारके को प्राप्त होगा। भविष्य में इसी पिन नम्बर से वह अपने इस नये कार्ड का प्रयोग कर शाॅपिंग कर सकता है।
संगठन कार्यकत्र्ता कहाँ-कहाँ जाकर नवीन कार्ड बना सकते है?

            वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए सर्व प्रथम अपने रिस्तेदारों, मित्रों परिचितों, सहकर्मियों तथा अपनी योग-कक्षा के साधकों को पतंजलि कार्ड के लाभ प्राप्त करने हेतु पे्रेरित करें। यदि परिस्थिति अनुकूल हो तो रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, मंदिर, गुरुद्वारा, तीर्थस्थल, मार्केट इत्यादि के बाहर कैनोपी इत्यादि लगाकर व्यक्तिगत सम्पर्क करके प्रेरित करें। किसी बैंक, विद्यालय, महाविद्यालय, फैक्ट्री, काॅरपोरेट हाउस इत्यादि में जाकर लोगों को प्रेरित करें। अपने फेसबुक, ट्वीटर, व्हाटसप इत्यादि सोशल मीडिया में प्रचार करके भी आप नये सदस्यों को प्रेरित कर सकते हैं।

Related Posts

Advertisement

Latest News