पीएचडी चैंबर-इंडियन योग ऐसोसिएशन के बीच करार

पीएचडी चैंबर-इंडियन योग ऐसोसिएशन के बीच करार

नई दिल्ली। योग को बढ़ावा देने के लिए पीएचडी चैंबर और इंडियन योग एसोसिएशन के बीच करार हुआ है। पीएचडी चैंबर और इंडियन योग एसोसिएशन के बीच हुए इस करार से योग, स्वास्थ्य आध्यात्म को बढ़ावा मिलेगा। दिल्ली में योगर्षि स्वामी जी महाराज ने कहा कि इस फैसले से योग के दिशा में कई बेहतर काम होंगे। इंडियन योग को प्रोत्साहित करने का काम कर रही है। आपको बता दें कि देशभर में योग के उत्थान के लिए काम करने वाले प्रमुख संस्थाओं के संचालकों ने भारत में योग और…

नई दिल्ली। योग को बढ़ावा देने के लिए पीएचडी चैंबर और इंडियन योग एसोसिएशन के बीच करार हुआ है। पीएचडी चैंबर और इंडियन योग एसोसिएशन के बीच हुए इस करार से योग, स्वास्थ्य आध्यात्म को बढ़ावा मिलेगा। दिल्ली में योगर्षि स्वामी जी महाराज ने कहा कि इस फैसले से योग के दिशा में कई बेहतर काम होंगे। इंडियन योग को प्रोत्साहित करने का काम कर रही है। आपको बता दें कि देशभर में योग के उत्थान के लिए काम करने वाले प्रमुख संस्थाओं के संचालकों ने भारत में योग और ज्यादा प्रचलित व स्वीकार्य बनाने के लिए इंडियन योग एसोसिएशन का पुनर्गठन किया है। पिछले साल ही योगर्षि स्वामी जी महाराज को पुनर्गठन के बाद एसोसिएशन का पहला अध्यक्ष चुना गया है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर योग के माध्यम से भारत की छाप प्रभावी बने इसके लिए भी एजेंडा तैयार किया जा रहा है। दुनिया भर में भारत के योग की पहचान कराने में श्रद्धेय स्वामी जी महाराज का अहम योगदान रहा है। खासतौर पर योग दिवस को मान्यता दिलाने में उनकी अहम भूमिका रही। योग एसोसिएशन के माध्यम से इस तरह की योजना बनाई जाएगी कि पूरी दुनिया में योग पर भारत का एकाधिकार रहे। -साभारः वन इंडिया’

Tags:

Related Posts

Advertisement

Latest News