चतुर्थ अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर एक साथ 2 लाख विद्यार्थियों व शहरवासी करेंगे योग

चतुर्थ अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर एक साथ 2 लाख विद्यार्थियों व शहरवासी करेंगे योग

विश्व रिकाॅर्ड बनाने की तैयारी, श्रद्धेय स्वामी जी महाराज कोटा में स्टूडेंट्स को योग से तनाव मुक्त रहने और सफलता के देंगे टिप्स कोटा (राजस्थान)। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर एक साथ दो लाख लोग व स्टूडेंट्स को योग करायेंगे। ऐसा पहली बार होगा जब इतनी बड़ी संख्या में लोग एक साथ योग करंेगे। रेजोनेंस और पतंजलि योगपीठ हरिद्वार द्वारा 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के तहत कोटा में योग दिवस समारोह आयोजित किया जाएगा। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज के साथ दो लाख से अधिक…

विश्व रिकाॅर्ड बनाने की तैयारी, श्रद्धेय स्वामी जी महाराज कोटा में स्टूडेंट्स को योग से तनाव मुक्त रहने और सफलता के देंगे टिप्स

कोटा (राजस्थान)। योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर एक साथ दो लाख लोग व स्टूडेंट्स को योग करायेंगे। ऐसा पहली बार होगा जब इतनी बड़ी संख्या में लोग एक साथ योग करंेगे। रेजोनेंस और पतंजलि योगपीठ हरिद्वार द्वारा 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के तहत कोटा में योग दिवस समारोह आयोजित किया जाएगा। श्रद्धेय स्वामी जी महाराज के साथ दो लाख से अधिक लोग इस कार्यक्रम में सम्मिलित होकर विश्व रिकाॅर्ड बनाएंगे।
पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार के मुख्य केन्द्रीय प्रभारी डाॅ. जयदीप आर्य जी द्वारा रेजोनेंस में आयोजित प्रेस काॅन्फ्रेंस में बताया कि किसी एक स्थान पर एक साथ दो लाख से अधिक लोगों के योग करने का यह कार्यक्रम विश्व भर में शिक्षा नगरी कोटा को नई पहचान देगा। डाॅ. जयदीप आर्य जी ने बताया कि इस कार्यक्रम से पहले 19 जून से तीन दिवसीय योग शिविर भी आयोजित किया जाएगा। इसमंे योगर्षि स्वामी रामदेव जी महाराज हाड़ौती व देशभर से कोटा आकर कोचिंग लेने वाले विद्यार्थियों को योग सिखाएंगे। जिनके माध्यम से विद्यार्थी एकाग्र और तनावमुक्त होकर विभिन्न एंटेंªस एग्जाम देकर सफलता हासिल कर सकेंगे। यह चैथा अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह होगा। इससे पहले दिल्ली, चण्डीगढ़, फरीदाबाद और अहमदाबाद में कार्यक्रम आयोजित हो चुके हैं। कोटा का कार्यक्रम संख्या की लिहाज से इन कार्यक्रमों से बने पिछले रिकार्डों को ध्वस्त कर देगा। इस समारोह से कई व्यक्तिगत और सामुहिक विश्व रिकार्ड भी बनेंगे। जिन्हें दर्ज करने के लिए ‘गिनीज बुक आॅफ वल्र्ड रिकाॅर्ड’ के पदाधिकारी भी कोटा आएंगे। -साभारः कोटा फ्रंट पेज’

ऽ भास्कर एक्सपर्ट: ये आसन रखेंगे तनाव मुक्त…..

1. भ्रामरी प्राणायाम: इसमें दोनों कानों में अंगूठा लगाकर ओम कार का गुंजन किया जाता है। जितनी देर तक सांस निकाल सकते है, उतनी देर तक इसका गुंजन करना है। इसको 11 या अधिक बार करना चाहिए।
2. उद्गीथ प्राणायाम: उद्गीथ प्राणायाम: इस के तहत ओम का उच्चारण करना होता है। इसमें साधारण मुद्रा में बैठना होता है। जितनी सांस खींच सकते हैं, उतने में उच्चारण करना है। इससे होने वाले वाइब्रेशन से स्ट्रेस रिलीज होता है।
3. निद्रा आसन: इस आसन में आँखे बन्द करके अपने शरीर को शिथिल करके एक-एक अंगों को ढीला छोड़ दें। सहज भाव से सांस को आने व जाने दे। इस आसन से चिन्ता, तनाव, स्टेªस दूर होता है व मन शान्त हो जाता है।

एक माह पहले लगेगी 500 योग कक्षायें:

डाॅ. जयदीप आर्य जी (मुख्य केन्द्रीय प्रभारी, भारत स्वाभिमान) ने कहा कि योग एक चिकित्सा पद्धति है। योग दिवस से एक महीने पहले यहाँ पाँच सौ योग क्लासेज शुरू की जाएंगी। रेजोरेंस के प्रबंध निदेशक आर.के. वर्मा ने कहा कि इस कार्यक्रम से कोचिंग विद्यार्थी लाभान्वित होंगे।

Tags:

Related Posts

Advertisement

Latest News