योग व आयुर्वेद से भारत को रोगमुक्त करने का प्रण दोहराया

कार्यकर्ता बैठक:  अमरावती में षीघ्र पतंजलि का वेलनेस सेंटर

योग व आयुर्वेद से भारत को रोगमुक्त करने का प्रण दोहराया

     अमरावती (महाराष्ट्र)। पतंजलि योग समिति और भारत स्वाभिमान न्यास के मुख्य केन्द्रीय प्रभारी स्वामी परमार्थदेव जी की गरिमापूर्ण उपस्थिति में विदर्भस्तर की बड़ी बैठक यहां कठोरा नाका स्थित रंगोली लाॅन में हुई। जिसमें 9 जिलें के संबंधित संगठनों, संस्थाओं के पदाधिकारी सहभागी हुए, इस मौके पर स्वामी परमार्थदेव जी ने भारत भर को बीमारियों से मुक्त करने का प्रण दोहराया, इसी कड़ी में अमरावती को भी रोगमुक्त करने के लिए विशेष कार्यक्रम की घोषणा की ऐसे ही अमरावती में शीघ्र पतंजलि का वेलनेस सेंटर खोलने की भी घोषणा स्वामी जी ने करतल ध्वनी के बीच की।
  कार्यकर्ता बैठक का उद्देश्य योग, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा, स्वदेशी का प्रचार और प्रसार संगठन के माध्यम से सम्पूर्ण महाराष्ट्र में करना। उस विषय पर स्वामी परमार्थदेव जी ने मार्गदर्शन किया। उनके साथ आचार्य चंद्रमोहन जी भी उपस्थित थे। उन्होंने कहा की प्रदेश के युवाओं को मजबूती के साथ रोगमुक्त करने घर-घर योग का प्रचार-प्रसार करने का संकल्प लेना चाहिए। नशामुक्ति, भयमुक्त, भारतीय शिक्षा और स्वदेशी पर बल दिया जाएगा। बेटी बचाओ अभियान और आत्मनिर्भर भारत के तहत व्यापक कार्य होगा। अमरावती में पतंजलि वेलनेस सेंटर स्थापित होगा जो 200 से अधिक थेरेपी का उपयोग कर लोगों को विकारों से निजात दिलाएगा। अमरावती में आचार्यकुलम् भी आरम्भ करने की रूप रेखा है।

Related Posts

Advertisement

Latest News

आयुर्वेद में वर्णित अजीर्ण का स्वरूप, कारण व भेद आयुर्वेद में वर्णित अजीर्ण का स्वरूप, कारण व भेद
स शनैर्हितमादद्यादहितं च शनैस्त्यजेत्।     हितकर पदार्थों को सात्म्य करने के लिए धीरे-धीरे उनका सेवन आरम्भ करना चाहिए तथा अहितकर पदार्थों...
अयोध्या में भगवान श्री रामजी की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव
ऐतिहासिक अवसर : भारतीय संन्यासी की मोम की प्रतिकृति बनेगी मैडम तुसाद की शोभा
पतंजलि योगपीठ में 75वें गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण कार्यक्रम
भारत में पहली बार पतंजलि रिसर्च फाउंडेशन में कोविड के नये वैरिएंट आमीक्रोन JN-1 के स्पाइक प्रोटीन पर होगा अनुसंधान
आयुर्वेद अमृत
लिवर रोगों में गिलोय की उपयोगिता को अब यू.के. ने भी माना